Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

भाजपा की जीत से झूम उठा शेयर बाजार,निफ्टी ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

Patrika news network Posted: 2017-03-14 11:20:09 IST Updated: 2017-03-14 11:20:09 IST
भाजपा की जीत से झूम उठा शेयर बाजार,निफ्टी ने तोड़े सारे रिकॉर्ड
  • यूपी और उत्तराखण्ड के विधानसभा चुनावों में भाजपा की प्रचंड जीत से मंगलवार को शेयर बाजार झूम उठा।

मुंबई।

यूपी और उत्तराखण्ड के विधानसभा चुनावों में भाजपा की प्रचंड जीत से मंगलवार को शेयर बाजार झूम उठा। यूपी में भाजपा की 325 सीटों पर शानदार जीत से निवेशकों का भरोसा बढ़ा और 50 शेयरों के निफ्टी सूचकांक ने अब तक के सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए 9100 का आंकड़ा पार कर लिया। चुनावी नतीजों और होली के बाद मंगलवार को बाजार खुला तो सेंसेक्स और निफ्टी 150 अंकों की उछाल के साथ खुले। इससे पहले रुपया भी जबर्दस्त मजबूती हासिल करते हुए डॉलर के मुकाबले अपने 1 साल के उच्चतम स्तर पर आ गया।

सेंसेक्स 500 अंकों के साथ उछाल के साथ 29460 पर खुला वहीं निफ्टी ने 155 अंकों की बढ़त के साथ 9090 से शुरुआत की और तुरंत अपने पिछले रिकॉर्ड 9119.20 अंकों को भी पार कर लिया। निफ्टी ने यह रिकॉर्ड 4 मार्च 2015 को हासिल किया था। बीएसई मिडकैप और बीएसई स्मॉलकैप शेयर 1 फीसदी ऊपर ट्रेंड कर रहे हैं।

उम्मीद के मुताबिक रुपया भी 40 पैसे की मजबूती के साथ 66.60 रुपए प्रति डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड 66.20 पर खुला। 20 अप्रेल 2016 के बाद रुपया सबसे मजबूत हुआ है। इस तेजी के साथ रूपया एक साल के उत्ततम स्तर पर पहुंच गया है। शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रूपया 12 पैसे की मजबूती के साथ 66.20 के स्तर पर बंद हुआ था।

दरअसल बाजार को विधानसभा चुनाव के नतीजों का बेसब्री से इंतजार था। भाजपा की यूपी में बड़ी जीत के बाद यह तय था कि इक्विटी,करंसी और डेट बाजारों में हलचल बढऩे वाली है। बुलिश निवेशकों का मानना है कि राजनीतिक स्थिरता के चलते आर्थिक सुधार तेजी से होंगे जिससे देश में विदेशी निवेश बढ़ेगा। इससे निफ्टी में इस साल के अंत तक 500-1000 अंकों की तेजी आ सकती है। उनका यह भी मानना है कि डॉलर के मुकाबले रूपये में कमजोरी नहीं आएगी।

ऐडलवेसिस सिक्योरिटीज ने कहा,बाजार के लिए मोदी की यह जीत इस ओर संकेत देती है कि मोदी 2019 में फिर से बहुमत के साथ सत्ता में आ सकते हैं। इसके अलावा भाजपा की यूपी में जीत से प्रभावित होकर वह अपने सुधारवादी एजेंडे पर टिके रहेंगे और राज्यसभा में भी भाजपा की स्थिति सुधरेगी जिससे बिल पास कराने में आसानी होगी। फेड की बैठक से पहले अमरीकी बाजार में सुस्ती का माहौल है। यूएस फेड की बुधवार को बैठक है जिसमें दरों में बढ़ोतरी लगभग तय है। सोमवार के कारोबारी सत्र में डाउ जोंस 22 अंक गिरकर 20881 पर,एसएंडपी 500 इंडेक्स 04 फीसदी बढ़कर 2373.47 पर और नैस्डेक 14 अंक की बढ़त के साथ 5875.78 पर बंद हुआ।