अरुणाचल प्रदेश में सेना ने उग्रवादी समझकर 35 साल के ग्रामीण को मार डाला

Daily news network Posted: 2017-06-15 19:01:38 IST Updated: 2017-06-15 19:01:38 IST
अरुणाचल प्रदेश में सेना ने उग्रवादी समझकर 35 साल के ग्रामीण को मार डाला
  • अरुणाचल प्रदेश में सेना ने बीती रात म्यांमार की सीमा से लगे इलाके में 35 वर्षीय शख्स को गोली मार दी। इससे उसकी मौत हो गई। सेना ने इसे गलत पहचान का मामला बताया है यानि उग्रवादी होने के शक में उसे मारा गया।

इटानगर।

अरुणाचल प्रदेश में सेना ने बीती रात म्यांमार की सीमा से लगे इलाके में 35 वर्षीय शख्स को गोली मार दी। इससे उसकी मौत हो गई। सेना ने इसे गलत पहचान का मामला बताया है यानि उग्रवादी होने के शक में उसे मारा गया। 



मृतक की पहचान 35 वर्षीय थिंगतु नगेमु के रूप में हुई है। डिफेंस पीआरओ कर्नल चिरनजीत कोंवेर ने गुरुवार को घटना के बारे में जानकारी दी। गुवाहाटी स्थित डिफेंस पीआरओ लेफ्टिनेंट कर्नल सुनीत न्यूटोन ने कहा,यह गलत पहचान का मामला है। 



नगेमु को 21 पैरा(स्पेशल फोर्स) के जवानों ने उस वक्त गोली मारी जब सेना के जवान चांगलांग जिले में उग्रवाद विरोधी ऑपरेशन चला रहे थे। जिस इलाके में नगेमु को गोली मारी गई उसकी पहचान उल्फा(आई) और एनएससीएन(के) जैसे उग्रवादी गुटों के लिए ट्रांजिट रूट के तौर पर की गई है। 



इस कारण इलाके में चौकसी बढ़ा दी गई थी। पूर्वोत्तर में सक्रिय उग्रवादी गुट अंतरराष्ट्रीय सीमा का फायदा उठाकर म्यांमार में छिप जाते हैं और मौका देखकर हमले करते हैं। सेना ने अपने बयान में कहा, हार्डकोर उग्रवादियों के ग्रुप की मूवमेंट के बारे में खुफिया जानकारी मिली थी। 



इसके चलते जवानों ने इस विशेष इलाके में ऐम्बुश लगाया था। इस दौरान वह शख्स ऐम्बुश की रेंज में आ गया। चेतावनी देने पर उसने बहुत संदिग्ध मूवमेंट किया। वह ऐम्बुश पार्टी की ओर भाग रहा था। इस कारण जवानों को मजबूरन ओपन कंट्रोल्ड फायर करना पड़ा। इससे उस शख्स की मौत हो गई। यह गलत पहचान का मामला है।