असम: सुसाइड से पहले फेसबुक पर अपलोड किया वीडियो,कहा-अलविदा

Daily news network Posted: 2017-12-07 12:14:47 IST Updated: 2017-12-07 12:14:47 IST
असम: सुसाइड से पहले फेसबुक पर अपलोड किया वीडियो,कहा-अलविदा
  • असम से चौंकाने वाली खबर सामने आई है। मंगलदोई इलाके में चार दिन पहले एक शख्स ने नदी में कूद कर आत्महत्या कर ली।

असम से चौंकाने वाली खबर सामने आई है। मंगलदोई इलाके में चार दिन पहले एक शख्स ने नदी में कूद कर आत्महत्या कर ली। खुदकुशी का संदेश देने के लिए उसने सोशन नेटवर्किंग साइट फेसबुक का प्रयोग करके लोगों को सकते में डाल दिया। जानकारी के मुताबिक निखिल रंजन वरिष्ठ नाम के शख्स ने आत्महत्या से पहले फेसबुक पर लाइव वीडियो जारी करके कहा, सभी को अलविदा, मैं खुदकुशी कर रहा हूं। अगर जिंदा बचा तो फिर मिलेंगे। फेसबुक पर निखिल रंजन के इस वीडियो संदेश को जिसने भी देखा या पढ़ा, सकते में आ गया। निखिल रंजन वशिष्ठ 3 दिसंबर की शाम 4.30 बजे फेसबुक पर लाइव किया। इसमें निखिल ने बताया कि वह नदी में छलांग लगाने जा रहा है।

इस दुखद हादसे के बाद लोगों के बीच यह चर्चा का विषय बन गया कि क्या फेसबुक मौत का संदेश देने का माध्यम बन सकता है। निखिल रंजन वशिष्ठ ने फेसबुक के जरिए अपने जिन दोस्तों को ये संदेश भेजा, उनके पास उसे बचाने का कोई मौका भी नहीं था। घटना के एक दिन बाद निखिल मृत अवस्था में पाया गया। बताया जा रहा है कि निखिल रंजन ने पहले सुसाइड का वीडियो बनाया और फिर नदी में छलांग लगा दी। एक दिन बाद पुलिस ने उसके शव को नदी से बरामद किया। पुलिस इस खुदकुशी को डेयरिंग और स्टंट बता रही है।

गौरतलब है कि युवाओं में सुसाइड की बढ़ती प्रवृत्ति को देखते हुए फेसबुक ने हाल ही में एक सॉफ्टवेयर लॉन्च किया था। इसके जरिए फेसबुक सुसाइड की प्रवृत्ति वाली पोस्ट को स्कैन करेगा और उन पर नजर रखेगा। इसके साथ ही यूजर को मेंटल पीस फैसिलिटी भी मुहैया कराएगा। फेसबुक का ये सॉफ्टवेयर अमरीका में सफल हो चुका है और इसे खासकर फेसबुक लाइव के जरिए सुसाइड की कोशिश करने वाले को बचाने के लिए तैयार किया गया है। एक रिसर्च के मुताबिक दुनिया में हर 40 वें सेकैंड में सुसाइड से एक आदमी की मौत होती है।