कानून व्यवस्था को प्रभावित करने वाली किसी स्थिति से समझौता नहीं करेंगे: बीरेन सिंह

Daily news network Posted: 2017-06-20 15:31:19 IST Updated: 2017-06-20 15:31:19 IST
कानून व्यवस्था को प्रभावित करने वाली किसी स्थिति से समझौता नहीं करेंगे: बीरेन सिंह
  • मणिपुर में हाल में हुए आतंकवादी गतिविधियों पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह ने कहा कि सरकार राज्य की कानून व्यवस्था को प्रभावित करने वाली किसी भी स्थिति से समझौता नहीं करेगी।

इंफाल।

मणिपुर में हाल में हुए आतंकवादी गतिविधियों पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह ने कहा कि सरकार राज्य की कानून व्यवस्था को प्रभावित करने वाली किसी भी स्थिति से समझौता नहीं करेगी।



उखरुल जिले में हाल में हुई हत्याओं की निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि प्राथमिकी दर्ज की गई है और उन अपराधियों को दंडित किया जाएगा जो आतंकवाद के ऐसे कृत्य से जुड़े हुए हैं। उन्होंने आगे कहा कि वार्ता ही विद्रोह की समस्या का स्थायी समाधान लाने का एकमात्र तरीका है। मुख्यमंत्री रविवार को इम्फाल के सगाईपाट में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।



किसानों और स्वयं सहायता समूहों को प्रोत्साहित करने के लिए रेशम उत्पादन विभाग की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि रेशम उत्पादन विभाग को सरकार द्वारा प्राथमिकता दी जाएगी जिससे कि यह रेशम उत्पादकता को बढ़ा सके। साथ ही कौशल विकास प्रदान करे और विभिन्न रेशम उत्पादन योजनाओं के माध्यम से रोजगार और राजस्व पैदा कर सके। 



उन्होंने विभाग के अधिकारियों से सरकार को योजना या खाका प्रस्तुत करने के लिए कहा ताकि सरकार विभाग के विकास के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करे। उन्होंने आगे कहा कि यदि हम रेशम उत्पादन में गंभीरता से निवेश करें तो यह राज्य के लिए गौरव की बात होगी।



मुख्यमंत्री ने कहा, 'यह मेरा आश्वासन है कि मेरे जीवन का शेष भाग लोगों और राज्य के कल्याण के लिए समर्पित रहेगा।' उन्होंने आगे कहा कि हमें राज्य में विकास लाने के लिए एक बदलाव की जरूरत है। नई सरकार के प्रति लोगों की टिप्पणी और ज्ञान की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि नई सरकार को लोगों के समर्थन की आवश्यकता है ताकि सरकार इस क्षेत्र में समृद्धि ला सके।



समारोह के दौरान मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि स्थानीय उद्यमी वांग्काइम्यम शांता को रेशम उत्पादन रीलिंग मशीन के विकास में उनके योगदान के लिए एक पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। यह पुरस्कार इस वर्ष 15 अगस्त को उन्हें दिया जाएगा। इस अवसर पर मोटराइज्ड चरखा मशीन को 23 लाभार्थियों को वितरित किया गया। 10 लाभार्थियों को मोटरयुक्त पैडल स्पिनिंग मिल, 5 लाभार्थियों को सौर ऑपरेटर स्पिनिंग मिल दिया गया।