त्रिपुरा- माणिक के किले पर हमला बोलने पहुंचे योगी, ये है पूरी प्लानिंग

Daily news network Posted: 2018-02-12 15:44:33 IST Updated: 2018-02-12 15:44:33 IST
त्रिपुरा- माणिक के किले पर हमला बोलने पहुंचे योगी, ये है पूरी प्लानिंग
  • बीजेपी के फायर ब्रांड और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चुनावी अभियान के लिए त्रिपुरा पहुंचे जहां उनका स्वागत भाजपा के नेता सुनील देवधर ने किया।

अगरतला

बीजेपी के फायर ब्रांड और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चुनावी अभियान के लिए त्रिपुरा पहुंचे जहां उनका स्वागत भाजपा के नेता सुनील देवधर ने किया।


मुख्यमंत्री वहां दो दिन तक चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे तथा रोड़ शो में भाग लेकर प्रचार करेंगे, योगी यहां नाथ संप्रदाय से जुड़े लोगों को बीजेपी के पक्ष में करने की कोशिश करेंगे। बता दें नाथ संप्रदाय से जुड़े लोगों की संख्या यहां काफी है और यही वजह है कि बीजेपी हाईकमान ने सीएम योगी को यहां स्टार प्रचारक एक तौर पर भेजा है।


गौरतलब है कि गोरक्षनाथ पीठ नाथ संप्रदाय से जुड़े लोगों का मुख्य पीठ है और योगी यहां के महंत हैं. लिहाजा पार्टी का मानना है कि योगी के प्रचार से उसे नाथ संप्रदाय के वोटरों को साधने में कामयाबी मिलेगी।



दो दिवसीय दौरे पर अगरतला में सीएम योगी गोरखनाथ मंदिर में पूजन करेंगे, इसके बाद जुबराज नगर तक रोड शो करेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज 3 जनसभाओं को भी संबोधित करेंगे उसके बाद शाम को गोरखनाथ मंदिर मजलिसपुर में पूजा और खैरपुर तक रथयात्रा का कार्यक्रम है, अगरतला में रात्रि विश्राम के बाद 13 फरवरी को उदयपुर मंदिर में पूजा और 3 जनसभाएं करेंगे।


योगी की लोकप्रियता और राज्य के सियासी समीकरणों को देखते हुए अब बीजेपी योगी आदित्यनाथ की कई रैलियों का आयोजन कर रही है, 35 परसेंट बंगाली नाथ संप्रदाय को साधने की तैयारी दरअसल त्रिपुरा में 35 परसेंट बंगाली नाथ संप्रदाय के लोग हैं. यह वही नाथ संप्रदाय है जिसे सीएम योगी ने अपनाया है. गोरखपुर का गोरक्षनाथ मंदिर भी नाथ संप्रदाय का ही है।




लिहाजा बीजेपी की रणनीति है कि इस वोट बैंक को सीएम योगी की रैलियों से साधा जाए। इसके अलावा नाथ संप्रदाय को जहां केंद्र में ओबीसी श्रेणी में रखा गया है, वहीं त्रिपुरा में यह सामान्य श्रेणी का ही हिस्सा है। यह भी एक वजह है कि त्रिपुरा बीजेपी सीएम योगी की रैलियों को लेकर उत्सुक है मालूम हो कि त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव के लिए 18 फरवरी को मतदान होना है।