22 January, 2017
Breaking News

तीस्ता का एनजीओ सस्पेंड, वित्तीय गड़बड़ी का आरोप

Daily News Network Posted: 2015-09-11 12:25:16 IST Updated: 2015-09-11 13:03:46 IST
नई दिल्ली।
विदेशी स्रोतों से चंदा लेने के मामले में सामाजिक कार्यकर्ता तीस्‍ता सीतलवाड़ के एक एनजीओ का पंजीकरण छह महीने के लिए निलंबित कर दिया गया है। गृह मंत्रालय में इस संबंध में आदेश दे दिए हैं। आदेश तत्काल प्रभाव से लागू भी हो गया है। गौरतलब है कि तीस्ता शीतलवाड़ गोधरा दंगों के पीडि़तों की मदद के साथ ही मानवाधिकारों से संबंधित कई मामलों को लेकर गुजरात सरकार को कटघरे में खड़ा करती रही हैं।

इससे पहले भी तीस्‍ता के एक अन्‍य एनजीओ सिटिजन फार जस्टिस एंड पीस के खिलाफ  भी आदेश जारी हो चुका है। इसके मुताबिक एनजीओ को विदेशी धन स्वीकार करने या उसका उपयोग करने से पहले गृह मंत्रालय से अनुमति लेनी होगी।

जानकारी के मुताबिक, इस बार सस्पेंड किए गए एनजीओ का नाम सबरंग ट्रस्‍ट है, जिसे तीस्‍ता और उनके पति जावेद आनंद चलाते हैं। गृह मंत्रालय के आदेश के खिलाफ  दोनों अपना पक्ष रख सकते हैं। यदि उनकी बात से गृह मंत्रालय संतुष्ट नहीं हुआ तो उनका पूरी तरह से पंजीकरण रद कर दिया जाएगा।

बताया जा रहा है कि गृह मंत्रालय की सिफारिश पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) सबरंग कम्यूनिकेशन एंड पब्लिशिंग प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ  जांच कर रहा है। यह तीस्ता की एक कॉमर्शियल फ र्म है। यह जांच विदेशी चंदा प्राप्त करने और उसके उपयोग में गड़बड़ी के आरोप में है।