Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

टीम इंडिया की धमाकेदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया की मुट्ठी से छीना मैच

Patrika news network Posted: 2017-03-07 15:24:55 IST Updated: 2017-03-07 16:56:54 IST
टीम इंडिया की धमाकेदार वापसी, ऑस्ट्रेलिया की मुट्ठी से छीना मैच
  • टीम इंडिया ने दूसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को 75 रन से हरा दिया। 188 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम दूसरी पारी में 112 रन पर ढेर हो गई। चार दिन में खत्म हुए इस मैच में भारत के लिए आर अश्विन ने 8 तो रवींद्र जडेजा ने 7 विकेट झटके।

बेंगलूरु।

टीम इंडिया ने दूसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को 75 रन से हरा दिया। 188 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेहमान टीम दूसरी पारी में 112 रन पर ढेर हो गई। चार दिन में खत्म हुए इस मैच में भारत के लिए आर अश्विन ने 8 तो रवींद्र जडेजा ने 7 विकेट झटके।



ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी में कोई भी बल्लेबाज 28 रन से ज्यादा नहीं बना सका। इससे पहले चौथे दिन भारतीय टीम दूसरी पारी में 274 रन पर ऑल आउट हो गई थी। पहली पारी में भारत के 189 रनों के जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 276 रन बनाए थे। मेहमान टीम को पहला झटका इशांत शर्मा ने 4.3 ओवर में दिया। इशांत ने मेट रेनशॉ(5) को रिद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट किया। 9.1 ओवर में अश्विन ने डेविड वॉर्नर(17) को एलबीडब्ल्यू करते हुए मेहमान टीम को दूसरा झटका दिया।



तीसरा विकेट उमेश यादव को 15 वें ओवर में मिला जब उन्होंने शॉन मार्श (9)को एलबीडब्ल्यू किया। उमेश यादव ने 20.3 ओवर में स्टीव स्मिथ(28)को एलबीडब्ल्यू आउट कर ऑस्ट्रेलिया को चौथा झटका दिया। पांचवा विकेट मिशेल मार्श(13) के रूप में गिरा। वे 25.6 ओवर में अश्विन की गेंद पर करुण नायर को कैच दे बैठे। उस वक्त टीम का स्कोर 101 रन था। इसी स्कोर पर एक और विकेट गिरा। नए बल्लेबाज के रूप में आए मैथ्यू वेड बिना खाता खोले पवैलियन लौटे।


27.5 ओवर में अश्विन की बॉल पर साहा ने गजब कैच लपककर उन्हें आउट किया। सातवां विकेट मिशेल स्टार्क के रूप में गिरा। उन्हें अश्विन ने बोल्ड किया। मार्श ने सिर्फ 1 रन बनाया। आठवां विकेट जडेजा को मिला। 34.2 ओवर में जडेजा ने स्टीव ओकीफ(2)को बोल्ड किया। अश्विन ने हेंड्सकॉम्ब को आउट कर ऑस्ट्रेलिया को नौवां झटका दिया। दूसरी पारी में टीम इंडिया 274 के स्कोर पर ढेर हो गई। टीम इंडिया की ओर से चेतेश्वर पुजार ने 92, अजिंक्य रहाणे ने 52 और लोकेश राहुल ने 51 रन बनाए।



तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारतीय टीम का स्कोर 213/4 था। चौथे दिन टीम इंडिया ने इसमें केवल 61 रन और जोड़े। भारतीय टीम के शेष 6 विकेट केवल 36 रन के अंदर गिर गए। एक वक्त टीम का स्कोर 4 विकेट पर 238 रन था लेकिन अगले 36 रनों में पूरी टीम आउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया के हेजलवुड ने 6 और स्टार्क व ओकीफ ने 2-2 विकेट लिए। चौथे दिन टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने बहुत बुरा प्रदर्शन किया। 19 बॉल के अंदर 5 विकेट गिर गए। इस दौरान सिर्फ 20 रन ही बने।



13 वें ओवर में विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हुआ और एक के बाद एक 5 विकेट गिए। टीम इंडिया ने चौथे दिन 4 विकेट पर 213 रनों से आगे खेलना शुरू किया। भारत को दिन का पहला झटका रहाणे के रूप में लगा। जब टीम का स्कोर 238 रन था तब रहाणे 52 रन के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। मिशेल स्टार्क ने रहाणे को अपना शिकार बनाया। रहाणे ने पुजारा के साथ मिलकर पांचवे विकेट के लिए 128 रनों की साझेदारी की। अगली ही गेंद पर स्टार्क ने करुण नायर को बोल्ड कर भारत को छठा झटका दिया। नायर खाता भी नहीं खोल पाए। भारतीय पारी को बड़ा झटका 86 वें ओवर में पुजारा के रूप में लगा। हेजलवुड ने पुजारा को अपना शिकार बनाया।



पुजारा ने 92 रन बनाए। आर अश्विन भी इसी ओवर में 4 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर बोल्ड हो गए। 258 के स्कोर पर भारत का नौवां विकेट गिरा। उमेश यादव 1 रन बनाकर हेजलवुड के छठे शिकार बने। मैचे के चौथे दिन रहाणे ने अपने 50 रन पूरे किए। ये उनके टेस्ट करियर की 11 वीं फिफ्टी रही। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरी। रहाणे ने अपने 50 रन 128 गेंदों में पूरे किए। इनमें 4 चौके भी शामिल थे। पुजारा ने 221 गेंदों में 92 रन बनाए। इनमें 7 चौके भी शामिल थे। ये उनके टेस्ट करियर की 14 वीं फिफ्टी रही। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांचवी।