274 रनों पर सिमटी टीम इंडिया,ऑस्ट्रेलिया को 188 रनों का लक्ष्य

Daily news network Posted: 2017-03-07 12:01:30 IST Updated: 2017-03-07 12:01:30 IST
274 रनों पर सिमटी टीम इंडिया,ऑस्ट्रेलिया को 188 रनों का लक्ष्य
  • ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट के चौथे दिन भारतीय टीम दूसरी पारी में 274 रनों पर सिमट गई। इस तरह भारत ने ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 188 रनों का लक्ष्य रखा है।

बेंगलूरु।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट के चौथे दिन भारतीय टीम दूसरी पारी में 274 रनों पर सिमट गई। इस तरह भारत ने ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 188 रनों का लक्ष्य रखा है। टीम इंडिया की ओर से चेतेश्वर पुजार ने 92,अजिंक्य रहाणे ने 52 और लोकेश राहुल ने 51 रन बनाए। इशांत शर्मा आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज रहे। उन्होंने 6 रन बनाए। रिद्धिमान साहा 20 रन बनाकर नाबाद रहे।

ऑस्ट्रेलिया की ओर से जोस हेजलवुड ने 6 विकेट लिए। मिशेल स्टार्क और स्टीव ओ कीफ ने 2-2 विकेट लिए। टीम इंडिया ने पहली पारी में 189 रन बनाए थे। जवाब में ऑस्ट्रलिया की टीम 276 रनों पर सिमट गई थी। चौथे दिन टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने बहुत बुरा प्रदर्शन किया। 19 बॉल के अंदर 5 विकेट गिर गए। इस दौरान सिर्फ 20 रन ही बने। 13 वें ओवर में विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हुआ और एक के बाद एक 5 विकेट गिए। टीम इंडिया ने चौथे दिन 4 विकेट पर 213 रनों से आगे खेलना शुरू किया।

भारत को दिन का पहला झटका रहाणे के रूप में लगा। जब टीम का स्कोर 238 रन था तब रहाणे 52 रन के निजी स्कोर पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। मिशेल स्टार्क ने रहाणे को अपना शिकार बनाया। रहाणे ने पुजारा के साथ मिलकर पांचवे विकेट के लिए 128 रनों की साझेदारी की। अगली ही गेंद पर स्टार्क ने करुण नायर को बोल्ड कर भारत को छठा झटका दिया। नायर खाता भी नहीं खोल पाए। भारतीय पारी को बड़ा झटका 86 वें ओवर में पुजारा के रूप में लगा। हेजलवुड ने पुजारा को अपना शिकार बनाया।

पुजारा ने 92 रन बनाए। आर अश्विन भी इसी ओवर में 4 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर बोल्ड हो गए। 258 के स्कोर पर भारत का नौवां विकेट गिरा। उमेश यादव 1 रन बनाकर हेजलवुड के छठे शिकार बने।

मैचे के चौथे दिन रहाणे ने अपने 50 रन पूरे किए। ये उनके टेस्ट करियर की 11 वीं फिफ्टी रही। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरी। रहाणे ने अपने 50 रन 128 गेंदों में पूरे किए। इनमें 4 चौके भी शामिल थे। पुजारा ने 221 गेंदों में 92 रन बनाए। इनमें 7 चौके भी शामिल थे। ये उनके टेस्ट करियर की 14 वीं फिफ्टी रही। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांचवी।