सिक्युरिटी गार्ड थे पिता, आज इस क्रिकेटर के पास है दो ऑडी कार, बने दुनिया के No.-1 बॉलर

Daily news network Posted: 2017-03-10 12:54:37 IST Updated: 2017-10-17 18:26:30 IST
सिक्युरिटी गार्ड थे पिता, आज इस क्रिकेटर के पास है दो ऑडी कार, बने दुनिया के No.-1 बॉलर
  • टीम इंडिया के नए मैच विनर स्पिनर रवींद्र जडेजा ICC टेस्ट रैंकिंग में दुनिया के नंबर वन टेस्ट बॉलर बन गए हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए दो टेस्ट मैचों में इन्होंने 12 विकेट लिए हैं। जडेजा आज क्रिकेट सेलिब्रिटी बन चुके हैं।

नई दिल्ली।

टीम इंडिया के नए मैच विनर स्पिनर रवींद्र जडेजा ICC टेस्ट रैंकिंग में दुनिया के नंबर वन टेस्ट बॉलर बन गए हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए दो टेस्ट मैचों में इन्होंने 12 विकेट लिए हैं। जडेजा आज क्रिकेट सेलिब्रिटी बन चुके हैं। उनके पास दो लग्जरी ऑडी कार हैं। 2016 में उन्हें 97 लाख रुपए की ऑडी Q 7 गिफ्ट में मिली थी।

लेकिन एक वक्त ऐसा था जब उनके पास इतने पैसे नहीं थी उनकी फैमिली साधारण थी। उनके पिता एक प्राइवेट कंपनी में सिक्युरिटी गार्ड थे, जबकि मां नर्स थीं। आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण जडेजा और उनकी फैमिली के लिए क्रिकेटर बनने तक का सफर आसान नहीं रहा। उनका जन्म गुजरात की एक छोटी सी जगह नवगाम में हुआ। 

बता दें कि जडेजा की मां का निधन 2005 में एक एक्सीडेंट में हो गया था। इससे वो इतना टूट गए थे कि क्रिकेट छोड़ने तक का मन बना लिया था। बाद में बहनों के कहने पर वो खेल में लौटे और आज टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हैं।

जडेजा के कार कलेक्शन में दो ऑडी कार हैं। 2016 में उन्हें उनके ससुर ने ऑडी Q 7 गिफ्ट की थी। इसकी कीमत करीब 97 लाख रुपए है। इससे पहले से जडेजा के पास ऑडी Q 3 कार है। कार के अलावा उन्हें घोड़ों का भी शौक है। जडेजा के फॉर्म हाउस में कई शानदार घोड़े हैं।

उन्हें 2002 में पहली बार सौराष्ट्र की अंडर-14 टीम में खेलने का मौका मिला। महाराष्ट्र के खिलाफ पहले ही मैच में उन्होंने 87 रन बनाए और चार विकेट भी झटक लिए।

जडेजा 15 साल की उम्र में ही वो सौराष्ट्र की अंडर-19 टीम में आ गए थे। इसी फॉर्मेट में उन्होंने अपने करियर की पहली सेन्चुरी भी लगाई थी। इसके बाद दिसंबर, 2005 में उन्होंने कई अच्छी परफॉर्मेंस के बाद वर्ल्ड कप अंडर-19 टीम में जगह बना ली। यहां जडेजा ने पहले ऑस्ट्रेलिया (चार विकेट) और फिर पाकिस्तान (तीन विकेट) के खिलाफ जबरदस्त परफॉर्मेंस दी।

2008 में भी जडेजा अंडर-19 वर्ल्ड कप टीम के मेंबर थे, जिसके कप्तान विराट कोहली थे। ये टीम वर्ल्ड कप चैम्पियन रही थी। टूर्नामेंट में जडेजा ने 10 विकेट लिए थे। इसके बाद फरवरी, 2009 में उन्हें टीम इंडिया के लिए वनडे और फिर टी20 खेलने का मौका मिला। जडेजा ने 2012 में टेस्ट डेब्यू किया।