Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे

गजब: बाप और बेटे ने एक ही मैच में लगाई फिफ्टी

Patrika news network Posted: 2017-03-14 18:54:40 IST Updated: 2017-03-14 18:54:40 IST
गजब: बाप और बेटे ने एक ही मैच में लगाई फिफ्टी
  • वेस्ट इंडीज टीम के पूर्व खिलाड़ी शिवनारायण चंद्रपॉल और उनके बेटे तेगनारायण चंद्रपॉल ने नया रिकॉर्ड दर्ज बनाया है।

नई दिल्ली।

वेस्ट इंडीज टीम के पूर्व खिलाड़ी शिवनारायण चंद्रपॉल और उनके बेटे तेगनारायण चंद्रपॉल ने नया रिकॉर्ड दर्ज बनाया है। दोनों ने एक ही फस्र्ट क्लास मैच में हाफ सेंचुरी लगाई है। पिता पुत्र की यह जोड़ी कैरेबियाई घरेलू क्रिकेट में गुयाना की ओर से खेलती है। घरेलू क्रिकेट में एक ही मैच में हाफ सेंचुरी लगाने वाली यह पिता पुत्र की पहली जोड़ी है।

फस्र्ट क्लास क्रिकेट में पिता पुत्र की जोड़ी ने 86 साल पुराने रिकॉर्ड की याद ताजा कर दी। 1931 में नॉटिंगमशर के जॉर्ज गन और वरनॉन गन ने वॉरविकशर के खिलाफ सेंचुरी लगाई थी। 53 वर्षीय जॉर्ज ने 183 और बेटे वरनॉन ने नाबाद 100 रन बनाए थे। जमैका के खिलाफ खेलते हुए शिवनारायण चंद्रपॉल और तेगनारायण ने 38 रनों की साझेदारी भी की। इसकी बदौलत गुयाना को पहली पारी के आधार पर कुछ बढ़त मिल गई।

जहां तेगनारायण ने 135 गेंदों पर 58 रनों का पारी खेली वहीं शिवनारायण चंद्रपॉल ने पांचवे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 175 गेंदों पर 57 रन बनाए। हालांकि दोनों बल्लेबाज सेंचुरी पूरी नहीं कर पाए। चंद्रपॉल ने 164 टेस्ट मैचों में 11867 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 51.37 रहा है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 30 शतक और 66 अर्धशतक लगाए हैं। टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में वे सातवें पायदान पर हैं। तेगनारायण ने 2013 में अपना फस्र्ट क्लास डेब्यू किया था।

अपने पिता के साथ यह उनका पांचवां मैच है लेकिन पहली बार दोनों ने हाफ सेंचुरी लगाई है। शिवनारायण चंद्रपॉल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने के दो साल बाद 1994 में तेगनारायण का जन्म हुआ। दोनों की उम्र में करीब 22 साल का फर्क है। 42 वर्षीय शिवनारायण चंद्रपॉल ने पिछले साल की शुरुआत में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया था। तेगनारायण भी अपने पिता की तरह बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं।