रंगबिरंगी तितलियों को देखकर एक बार फिर से जी लीजिये अपना बचपन

Daily news network Posted: 2017-09-12 17:28:47 IST Updated: 2017-09-12 17:28:47 IST
रंगबिरंगी तितलियों को देखकर एक बार फिर से जी लीजिये अपना बचपन

रंग बिरंगी तितलियाँ किसे पसंद नहीं होती है निसे प्रकृति की सुंदरता ही कहेंगे की इन तितलियों को देखते ही लोग आपका दुःख दर्द भूल जाते हैं और बस इनके रंग बिरंगे पंखो की चमक में खो जाते हैं. 

बचपन तो याद ही होगा आपको जब फूलों पर बैठी तितली को पकड़ने के लिए हम घंटों टकटकी बंधे उन्हें देखते रहते थे कि कब मौका मिले और हम उन्हें पकड़ लें लेकिन ऐसा करना इतना आसान नहीं होता था पर आप टेंशन मत लीजिये क्योंकि अब आप इन तितलियों को देख सकते हैं वो भी करीब से और अपने बचपन को एक बार फिर से जी सकते हैं. 

मुंबई के पास थाणे के निकट स्थित ओवाले के गांव में एक बटरफ्लाई पार्क है जिसके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं और इसके बारे में आपने बस लोगों के मुंह से ही सुना होगा। ये पूरी जगह धान से घिरी हुई थी लेकिन अब यहां पर 5000 पेड़-पौधे लगे हुए हैं जो तितलियों की 100 से ज्‍यादा प्रजातियों को आकर्षित करते हैं।

भारत का पहला बटरफ्लाई पार्क बैंगलोर में द बटरफ्लाई पार्क ही है जिसे 2006 में खोला गया था। इसे गार्डन सिटी के नाम से भी जाना जाता है। शानदार तितलियों को देखने के लिए आपको इससे बेहतर जगह और कोई नहीं मिलेगी। ये उद्यान बन्‍नेरघट्टा नेशनल पार्क में स्थित है और यहां पपर कई संरक्षित तितलियों को संग्रहालय में रखा गया है।

पुणे का बटरर्फ्लाई गार्डन भी खूबसूरत तितलियों के लिए मशहूर है। पुणे को पूर्व का ऑक्‍सफोर्ड भी कहा जाता है। ये बटर फ्लाई पार्क अरण्‍येश्‍वर मंदिर और अरण्‍येश्‍वर उद्यान के निकट स्थित है। यहां पर असंख्‍य पेड़-पौधों के बीव ति‍तलियों की 40-50 प्रजातियों देखने को मिलेंगीं। 

बहुत कम लोग ही इस जगह के बारे में जानते हैं। यहां पर आपको पीले रंग, टाइगर स्‍वैलोटेल जैसी कई तितलियां देखने को मिलेंगीं। यहां भारतीय नवाब तितली भी है।