भारत में अक्टूबर 2019 तक खत्म होगी खुले में शौच की समस्या

Daily news network Posted: 2017-09-16 11:52:58 IST Updated: 2017-09-16 11:52:58 IST
भारत में अक्टूबर 2019  तक खत्म होगी खुले में शौच की समस्या
  • स्वच्छ भारत निर्माण के लिए सबसे जरूरी और अहम है की भारत खुले में शौच की समस्या से मुक्त इसके लिए केंद्र सरकार भी जी जान से काम में जुटी है।

नई दिल्ली

स्वच्छ भारत निर्माण के लिए सबसे जरूरी और अहम है की भारत खुले में शौच की समस्या से मुक्त इसके लिए केंद्र सरकार भी जी जान से काम में जुटी है। 



केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उम्मीद जतायी है कि भारत अक्टूबर 2019 तक खुले में शौच की समस्या से मुक्त हो जायेगा, इसे साथ ही आपको बता दें की सिक्किम, हिमाचल प्रदेश केरल, हरियाणा और उत्तराखंड पहले ही खुले में शौच मुक्त राज्य घोषित किये जा चुके हैं। 


स्वच्छ भारत अभियान के तहत गृह मंत्रालय की ‘स्वच्छता ही सेवा’ मुहिम की आज शुरुआत करते हुये सिंह ने भरोसा जताया कि सरकार अक्टूबर 2019 तक खुले में शौच की समस्या से भारत को मुक्त करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प को पूरा करने में कामयाब होगी। 



उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार स्वच्छता अभियान पर 76 मंत्रालयों और अन्य विभागों के मार्फत 12 हजार करोड़ रुपये खर्च कर रही है. उन्होंने कहा कि घर में ही शौचालय की सुविधा से महिलाओं की सुरक्षा और गरिमा सुनिश्चित होगी। साथ ही स्वच्छता ही सेवा अभियान से बच्चों के पोषण और कार्यकुशलता में सुधार होगा। 



सिंह ने कहा कि सिक्किम, हिमाचल प्रदेश केरल, हरियाणा और उत्तराखंड पहले ही खुले में शौच मुक्त राज्य घोषित किये जा चुके हैं. इसके लिये लगभग 4.60 लाख घरों और चार लाख विद्यालयों में शौचालय निर्मित किये जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस मुहिम के तहत तकनीकी के इस्तेमाल से अपशिष्ट कचरे के शोधन से राजस्व प्राप्ति सरकार की प्राथमिकता है जिसके बाद आने वाले सालों में भारत को खुले में शौच मुक्त बनने में मदद मिलेगी।