लाखों दिलों की धड़कन बन चुकी हैं सिक्किम की यह सिंगर

Daily news network Posted: 2017-05-18 17:04:17 IST Updated: 2017-05-18 17:15:00 IST
लाखों दिलों की धड़कन बन चुकी हैं सिक्किम की यह सिंगर
  • सिक्किम की रहने वाली रेमंती राय अपनी आवाज के जादू से लाखों दिलों पर राज कर रही हैं। इस उभरती हुई गायिका के लाखों दीवाने हैं। मधुर आवाज की बदौलत रेमंती काफी तेजी से लोकप्रिय होती जा रही हैं।

गंगटोक।

सिक्किम की रहने वाली रेमंती राय अपनी आवाज के जादू से लाखों दिलों पर राज कर रही हैं। इस उभरती हुई गायिका के लाखों दीवाने हैं। मधुर आवाज की बदौलत रेमंती काफी तेजी से लोकप्रिय होती जा रही हैं। 

माता-पिता, जितमान राय और बिमला राय के घर जन्मी रेमंती(30) ने उत्तरी बंगाल के विश्वविद्यालय से कला में स्नातक और इतिहास में स्नातकोत्तर की पढ़ाई की है। 

बता दें कि रेमंती ने कभी भी संगीत का प्रशिक्षण नहीं लिया, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि वे अपनी संगीत से बहुत सारे दिलों को जीतने में सफल रहीं हैं।

6 वर्ष की उम्र से ही उनका लगाव संगीत के प्रति बढ़ने लगा और धीरे-धीरे उन्होंने इसके विभिन्न पहलुओं को जाना। बचपन के दिनों में वे श्री सत्य साईं संगठन के सत्संग में जाया करती थी। वहां गाए जाने वाले भजनों ने रेमंती को खूब प्रभावित किया। 

इस तरह उनकी संगीत की रूचि उनका जुनून बन गया। अब उन्होंने सिक्किम के छोटे हिमालयी राज्य में एक पहचान बना ली है। सिक्किम में संगीत को और ऊपर ले जाने के लिए रेमंती ने 'रेमंती संगीत अकादमी' की स्थापना की है। इसके पीछे उनका मकसद सिक्किम और आस-पास के राज्यों के युवाओं को संगीत के क्षेत्र में बेहतर करने के लिए प्रेरित करना है।

रेमंती ने हिमालयन आइडल 2005, नॉर्थ ईस्ट सुपरस्टार 2011, 2013 में स्टेट अवार्ड सहित कई उपलब्धि अपने नाम की है। रेमंती ने अपना वीडियो एलबम भी लॉन्च किया है।

रेमंती बताती हैं कि हाई स्कूल तक संगीत सिर्फ मेरा शौक था लेकिन बाद में मुझे एहसास हुआ कि संगीत मेरे लिए सिर्फ एक शौक नहीं मेरा सबकुछ है। इसलिए मैंने इसे अपना पेशा बना लिया।