अबू धाबी में नौकरी करता है यह भारतीय, एक रात में बन गया करोड़पति

Daily news network Posted: 2017-03-07 13:03:56 IST Updated: 2017-06-21 13:32:06 IST
अबू धाबी में नौकरी करता है यह भारतीय, एक रात में बन गया करोड़पति
  • मूल रूप से केरल के रहने वाले श्रीराज कृष्णन कोप्परेदुबई पिछले नौ वर्षों से अबू धाबी की एक शिपिंग कंपनी में नौकरी कर रहे हैं। उन्हें कंपनी से 6 दिरहम यानी 1 लाख नौ हजार रुपए सैलरी मिलती है।

नई दिल्ली।

मूल रूप से केरल के रहने वाले श्रीराज कृष्णन कोप्परेदुबई पिछले नौ वर्षों से अबू धाबी की एक शिपिंग कंपनी में नौकरी कर रहे हैं। उन्हें कंपनी से 6 दिरहम यानी 1 लाख नौ हजार रुपए सैलरी मिलती है। 

इसके साथ ही वे नियमित तौर पर लॉटरी की टिकट खरीदने के शौकीन हैं। लेकिन कभी भी उनकी किस्मत ने साथ नहीं दिया। इसके बाद उन्होंने आखिरी बार की सोचकर लॉटरी टिकट लिया और रविवार को उनके पास कॉल आता है कि वे 7 मिलियन दिरहम (12 करोड़ 71 लाख 70 हजार रुपए) जीते चुके हैं।

शुरू में तो श्रीराज कृष्णन को लॉटरी जीतने की बात पर विश्वास नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि, अबू धाबी में बिग टिकट ड्रॉ की रविवार को हुई घोषणा हुई। श्रीराज कृष्णन कोप्परेम्बिल ने करीब 12.71 करोड़ की लॉटरी जीती।

बता दें कि 33 साल के श्रीराज कृष्णन मूल रूप से केरल के रहने वाले हैं। वे पिछले नौ सालों से अबू धाबी में एक शिपिंग कंपनी में नौकरी कर रहे हैं। श्रीराज को हर माह भारतीय मुद्रा के हिसाब से 6 दिरहम (1 लाख 9 हजार रुपए) मिलते हैं।

 

इससे पहले भी लॉटरी में उन्होंने अपनी किस्मत आजमाई थी, लेकिन कभी जीतने में कामयाब नहीं हो पाए। अबूधाबी के लोकल अखबार खलीज टाइम्स से बातचीत में कृष्णन ने कहा, एक दिन उन्होंने तय किया कि वे आखिरी बार लॉटरी टिकट खरीदेंगे।

जब उन्होंने आखिरी बार 44698 नंबर का टिकट खरीदा तो वो उनका लकी नंबर निकला। इसी नंबर से करोड़ों की लॉटरी निकल गई। लॉटरी जीतने के बावजूद यह शहर नहीं छोड़ेंगे। श्री इन रुपयों से सबसे पहले अपने भारत स्थित घर का लोन चुकता करेंगे।