छात्र को तलाश है उस शिक्षक की, जिसने उसकी जिंदगी बदल दी

Daily news network Posted: 2017-09-06 17:25:25 IST Updated: 2017-09-06 17:25:25 IST
छात्र को तलाश है उस शिक्षक की, जिसने उसकी जिंदगी बदल दी
  • आप ने महाभारत में एकलव्य की कहानी तो सुनी ही होगी। इसी से मिलती-जुलती एक अनोखी कहानी शिक्षक दिवस पर शिलॉन्ग में सामने आई, जहां एक छात्र को तलाश है अपने उस शिक्षक की जिसने उसकी जिंदगी बदल दी। मगर आज तक वह अपने उस शिक्षकसे मिल नहीं सका है।

शिलॉन्ग।

आप ने महाभारत में एकलव्य की कहानी तो सुनी ही होगी। इसी से मिलती-जुलती एक अनोखी कहानी शिक्षक दिवस पर शिलॉन्ग में सामने आई, जहां एक छात्र को तलाश है अपने उस शिक्षक की जिसने उसकी जिंदगी बदल दी। मगर आज तक वह अपने उस शिक्षकसे मिल नहीं सका है।



जी हां, सुनने में शायद अजीब लगे परंतु यह सच है। शिलॉन्ग का आयुष जो वाणिज्य का छात्र है, परंतु उसकी घर की माली हालत इतनी अच्छी नहीं कि वह ट्यूशन पढ़ सके। वेसै तो आयूष पढ़ने में काफी अच्छा है, लेकिन माली हालत के कारण अच्छी पढ़ाई करने में असमर्थ था।



ऐसे में एक दिन उसे उसके फेसबुक पेज पर एक मित्र से मुलाकात हुई, जिसमें उस मित्र की कोई प्रोफाइल फोटो फेसबुक पेज पर नहीं थी। आयूष को यह पता नहीं चला कि यह फेसबुक मित्र महिला है या पुरुष।



बावजूद इसके आयूष उससे चैटिंग करता रहा, क्योंकित यह फेसबुक मित्र आयूष को एक तरह से फेसबुक के जरिए ट्यूशन पढ़ाता था। आयूष को जब भी कोई कठिन सवाल समझ में नहीं आता, वह उससे चैटिंग के जरिए उसका हल पूछता।



फेसबुक मित्र उसे सवाल सुलझाने का तरीका चैटिंग के जरिए बता देता। इससे आयूष को ट्यूशन की जरूरत नहीं पड़ी। इस तरह फेसबुक मित्र ने उसे पढ़ाई में सफलता की सीढ़ी चढ़ने में मदद की। नतीजा यह रहा कि आयूष अच्छे नंबरों से पास हुआ।



इतना ही नहीं आयूष को कॉलेज में दाखिला लेने में भी आर्थिक मदद इस फेसबुक मित्र ने की।



परंतु अजीब बात यह देखने में आई है कि आयूष ने जब भी इस मित्र से आमने-सामने मुलाकात की इच्छा जाहिर की, फेसबुक मित्र ने उससे इनकार कर दिया। मगर आयुष की दिली ख्वाइश है कि वह शिक्षक दिवस पर अपने इस अनजाने शिक्षक से मिलकर उसे गुरु दक्षिणा दे। अब पता नहीं आयूष की यह इच्छा कभी पूरी होगी या नहीं। आयूष ने शिक्षक दिवस पर अपनी यह इच्छा यहां संवादाताओं को बताई।