22 January, 2017
Breaking News

सरेआम बीच सड़क पर लड़की को कर रहे थे टॉर्चर, तमासबीन बने रहे लोग

Daily News Network Posted: 2017-01-03 17:22:47 IST Updated: 2017-01-03 17:22:47 IST
नई दिल्ली।
बीच सड़क पर एक लड़की को टॉर्चर किया जा रहा था। सबसे हैरानी की बात तो ये थी कि पास मौजूद सभी लोग इसे खड़े होकर देख रहे थे। ये सब कुछ कहीं और नहीं, बल्कि लंदन में हो रहा था। आखिर ऐसी क्या वजह थी, जिसके कारण लंदन जैसे शहर में लोग लड़की पर जुल्म होता देख कर भी चुप थे?

जबरदस्ती बांध लगाया जा रहा था इंजेक्शन
सड़क पर टॉर्चर की जा रही इस लड़की का नाम जैकलीन ट्रेड है। सड़क किनारे कांच के बॉक्स के अंदर जैकलीन को रखा गया था। कई तार को उनकी बॉडी से जोड़ कर रखा गया था। इसके अलावा मुंह को खींचकर उन्हें जबरदस्ती खिलाया जा रहा था।

इतना ही नहीं, उनके बाल तक मुंडवाए जा रहे थे। जैकलीन के साथ बिल्कुल वैसा सुलूक किया जा रहा था, जैसा जानवरों के साथ होता है। कई घंटों तक जैकलीन में कांच के बॉक्स में रखा गया। लोग बॉक्स के बाहर खड़े होकर ये सब देख रहे थे। लेकिन कोई कुछ नहीं कह रहा था।

जानवरों को होने वाली तकलीफ बताने के लिए किया जा रहा था सब
कॉस्मेटिक कंपनी लश ने लड़की को टॉर्चर कर लोगों को ये दिखाने की कोशिश की थी कि कैसे टेस्ट और रिसर्च के नाम पर बेजुबान जानवरों को टॉर्चर किया जाता है। लोगों को जागरूक करने के लिए ये सब सेट-अप किया गया था। टेस्ट्स के नाम पर जानवरों को कई साल तक कांच में बंद रखा जाता है।

इतना ही नहीं, उन्हें जबरदस्ती कई तरह की दवाइयां जबरदस्ती खिलाई जाती हैं। अभियान के जरिए लश ने लोगों को इस खौफनाक सच्चाई से अवगत कराया। कंपनी ने जानवरों की स्थिति दिखाते हुए जो भयानक सच बताया, उसे जानकर आपकी भी रूह कांप जाएगी।
आपको बता दें कि हर साल करीब 11 करोड़ 50 लाख जानवरों पर टेस्ट किया जाता है। इसमें US, जापान, चीन, ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस जैसे देश टॉप पर हैं। रिसर्च के नाम पर इन जानवरों को बुरी तरह टॉर्चर किया जाता है।