संक्रमण के कारण मिजोरम में बढ़ी सुअर मौत, आंकड़ा पहुंचा 1,348

Daily news network Posted: 2018-04-21 15:46:59 IST Updated: 2018-04-21 15:49:56 IST
संक्रमण के कारण मिजोरम में बढ़ी सुअर मौत, आंकड़ा पहुंचा 1,348
  • मिजाेरम के अधिकारियों ने बताया कि राज्य में पिछले कुछ हफ्ते में कम से कम 1,348 सुअर की मौत जान पोर्सिन रिप्रोडक्टिव एंड रेस्पिरेटरी सिंड्रोम आैर स्वाइन जैसे बीमारियों के कारण हाे चुकी है।

आर्इजोल।

मिजाेरम के अधिकारियों ने बताया कि राज्य में पिछले कुछ हफ्ते में कम से कम 1,348 सुअरों की मौत पोर्सिन रिप्रोडक्टिव एंड रेस्पिरेटरी सिंड्रोम आैर स्वाइन जैसे बीमारियों के कारण हाे चुकी है। ये आंकड़ा पिछले सप्ताह की राज्य के आठ जिलाों के गुरूवार तक की रिपोर्ट पर आधारित है। अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में कम से कम 2,613  इस संक्रमण से ग्रसित हैं। इसके अलावा राज्य के 81 एेसे गांव हैं जो इस संक्रमण के चपेट में आ चुके हैं ।

 


 

बता दें कि इससे पहले की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में जनवरी महीने में जान पोर्सिन रिप्रोडक्टिव एंड रेस्पिरेटरी सिंड्रोम आैर स्वाइन जैसे बीमारियों से मरने वाले सुअरों की संख्या  1,146 थी जो अब बढ़ कर 1,348 हो गर्इ है, यानि ये संक्रमण तेजी से प्रदेश में फैल रहा है। इन बीमारियों के संक्रमण का प्रकोप राज्य के करीब आठ जिलों में है, लेकिन मुख्य रूप से आर्इजोल, छार्चिप आैर चिम्पर्इ ऐसे इलाके हैं, जहां संक्रमण का प्रभाव सबसे ज्यादा है।


 


अधिकारियों ने बताया कि पीआरअारएस की बाजार में काेर्इ दवा नहींं है। इस बीमारी से संक्रमित सुअरों को इलाज के रूप में विटामिन (पीआरअारएस) दिया जाता है, ताकि वे किसी आैर बीमारी की गिरफ्त में न आएं। इसके अलावा विटामिन इस संक्रमण को बढ़ने में अवरोध का काम करता है।