एनआरसी में फर्जीवाड़ा: 4288 संदिग्ध विदेशियों के नाम दर्ज

Daily news network Posted: 2018-04-20 12:14:17 IST Updated: 2018-04-20 12:14:17 IST
एनआरसी में फर्जीवाड़ा: 4288 संदिग्ध विदेशियों के नाम दर्ज
  • सभी ऐसे नामों की सूची से हटाने की भी है व्यवस्था: हाजेला

गुवाहाटी।

 राज्य में जारी नागरिक पंजी (एनआरसी) अद्यतन कार्य की प्रगति के तहत अब तक 4288 संदिग्ध विदेशी नागरिकों की पहचान हुई है, जिन्होंने अपना नाम सूची में शामिल कराने के लिए फर्जीवाड़े का सहारा लिया था। एनआरसी के राज्य संयोजक प्रतीक हाजेला ने इसकी जानकारी दी। 





उन्होंने कहा कि फर्जीवाड़े के तहत नाम डालने में कामयाब होने वालों के नाम रद्द करने की भी व्यवस्था है। हाजेला ने बताया कि नागरिकता पंजी में नाम शामिल कराने के लिए संदिग्ध विदेशियों ने कई हथकंडे अपनाए हैं। कईयों ने अपनी असली पहचान तक बदल दी है। लिगेसी डाटा से संबंधित दस्तावेजों की जांच से यह भयानक सच्चाई सामने आई है। उन्होंने बताया कि विदेशी लोगों को नागरिकता साबित करने में वैध पाए गए परिवारों ने मदद दी है। वहीं फैमिली ट्री की जांच के लिए एनआरसी की ओर से एक वेबसाइट भी बनाई है। इस वेबसाइट में सुनवाई की तारीख, जगह आदि संबंधित जानकारी दी गई है। वेबसाइट का पता www.nrcassamhearing है।






 एनआरसी की फैमिली ट्री जांच कर रहे मोरीगांव के अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि कई मामलों में लिगेसी डाटा में उल्लेखित नाम तथा वंश वृक्ष में शामिल नामों के अतिरिक्त अलग-अलग नामों के व्यक्तियों को भी अपना रिश्तेदार दिखाकर परिवार से संबंधित दिखाने की कोशिश की गई है। पूछताछ के दौरान ऐसे कई संदिग्ध लोगों की असली पहचान सामने आई है। कहीं कोई किसी को अपना बेटा दिखा रहा है तो बेटे को अपनी बहनों की संख्या व भाइयों की संख्या मालूम नहीं है। इस तरह से कई रोचक वाक्य सामने आने की उक्त अधिकारी ने जानकारी दी है।