कांग्रेस को हिमंता का जवाब: 48 घंटे तक बड़े नेता जूझते रहे, फिर भी नहीं बना सके सरकार

Daily news network Posted: 2018-03-11 08:15:45 IST Updated: 2018-03-11 13:32:00 IST
  • मेघालय में महज 2 सीट जीतकर सरकार में शामिल होने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हो रही आलोचनाओं का असम के मंत्री हिमंता विश्व सरमा ने जवाब दिया।

शिलॉन्ग।

मेघालय में महज 2 सीट जीतकर सरकार में शामिल होने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हो रही आलोचनाओं का असम के मंत्री हिमंता विश्व सरमा ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 4 बड़े नेताओं ने 48 घंटे तक सरकार बनाने की कोशिश की थी। एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में सरमा ने पूर्वोत्तर में भगवा की कामयाबी पर चर्चा की।


सत्र के दौरान उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने इस जीत के लिए कड़ी मेहनत की है। इसके अलावा पूर्वोत्तर के लोगों का देश के अन्य हिस्से के लोगों की तर्ज पर सोचना है कि बीजेपी के पास देश में विकास का विजन है और वह इस विजन से अलग नहीं रहना चाहते। पूर्वोत्तर भारत में भगवा पार्टी को स्थापित किए जाने के सूत्रधारों में से एक हेमंत ने मेघालय में सरकार बनाने को लेकर कहा कि कांग्रेस की ओर से 4 बड़े नेताओं ने 48 घंटे तक मेघालय में सरकार बनाने की कोशिश की। उसके कमलनाथ और मुकुल वासनिक जैसे बड़े नेताओं ने सरकार बनाने की भरपूर कोशिश की। सत्तारुढ़ कांग्रेस मेघालय में इस बार 21 सीट हासिल सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी, लेकिन वह सरकार नहीं बना सकी।


हिमंता ने कहा कि कांग्रेस के लगातार प्रयासों के इतर बीजेपी महज 30 मिनट में सरकार बनवाने में कामयाब हो गई क्योंकि वह दूसरों को सम्मान देना जानती है। हम दूसरों को राजनीतिक स्तर पूरा मौका देते हैं। कांग्रेस छोडऩे के सवाल पर हिमंता ने कहा कि बीजेपी में शामिल होने के बाद असम चुनावों की तैयारी तक उनमें बदला लेने की बात थी, लेकिन अब वह भावना मेरे अंदर नहीं है। आज हमारी कोशिश है कि पूरे नॉर्थ ईस्ट को विकास की मुख्यधारा में लाया जाए।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पसंद करने की बात पर हेमंत ने कहा कि कांग्रेस के किसी नेता से पूछिए कि क्या उन्होंने कभी सोनिया गांधी या राहुल गांधी के साथ डिनर पर बातचीत की है। उन्होंने कहा यह कांग्रेस कल्चर का हिस्सा नहीं है। वहीं बीजेपी में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के डायनिंग रूम का दरवाजा खुला रहता है और वह लोगों का खुले मन से स्वागत करते हैं।