जब आसमान में एक दूसरे के सामने आ गए विमान, एक चूक और चली जाती सैकड़ों जानें

Daily news network Posted: 2018-05-12 11:11:19 IST Updated: 2018-05-12 11:58:52 IST
जब आसमान में एक दूसरे के सामने आ गए विमान, एक चूक और चली जाती सैकड़ों जानें
  • आज की सुबह बेहद दर्दनाक होती अगर सही समय पर हवाई जहाज में लगे उपकरण पायलट को चेतावनी न देते तो दो प्लेन आपस में टकरा जाते और सैकड़ों लोगों की जान चली जाती।

अगरतला।

आज की सुबह बेहद दर्दनाक होती अगर सही समय पर हवाई जहाज में लगे उपकरण पायलट को चेतावनी न देते। दरअसल त्रिपुरा के अगरतला से कोलकाता के लिए उड़ान भरने वाले विमान के साथ ढाका के हवाई क्षेत्र में एक बड़ी विमान दुर्घटना उस वक्त टल गई जब इंडिगो और एयर डेक्कन के विमान आपस में टकराने से बाल-बाल बचे। 


सही समय पर दोनों विमानों के पायलट को स्वचालित चेतावनी प्रणाली से इस बारे में सूचना मिली कि दोनों विमान खतरनाक तौर पर एक-दूसरे के बेहद नजदीक आ गए थे। दोनों विमानों के बीच यह अनिवार्य अंतर बनाए रखने की सीमा का कथित उल्लंघन था। 


सूत्रों ने बताया कि घटना दो मई की है, जब बांग्लादेश के हवाई क्षेत्र में इंडिगो का कोलकाता से अगरतला जा रहा विमान 6 ई -892 और एयर डेक्कन का त्रिपुरा के अगरतला से कोलकाता आ रहा विमान डीएन 602 हवा में एक-दूसरे के नजदीक आ गए ।  इस घटना को गंभीरता से लिया गया क्योंकि इंडिगो के एयरबस ए 320 विमान और डेक्कन का बीचक्राफ्ट 1900 डी विमान एक-दूसरे से मात्र 700 मीटर की दूरी पर रह गए थे। इसकी जांच विमान दुर्घटना अन्वेषण ब्यूरो ने की। 



सूत्रों के अनुसार, ‘‘डेक्कन का विमान अगरतला की ओर उतर रहा था और 9,000 फुट की ऊंचाई पर था, जबकि इंडिगो का विमान उड़ान भर रहा था और 8,300 फुट की ऊंचाई पर था तभी विमान में लगे टीसीएएस ने दोनों पायलटों को चेतावनी दी कि वह विमान को सुरक्षित दूरी पर ले जाएं।’’ बता दें कि टीसीएएस विमान में लगा एक उपकरण होता है जो पायलटों को विमान की पहुंच के दायरे में हवाई यातायात की जानकारी देता है साथ ही उन्हें सूचित करता है ताकि वह सावधानी अपना सकें। 


इंडिगो के प्रवक्ता ने घटना की पुष्टि की है नियामक घटना की जांच कर रहा है इसके साथ ही डेक्कन से संपर्क करने पर अधिकारी ने भी इस घटना के जांच की बात कहीं है और कहा कि यह ‘एयरप्रॉक्स’ की घटना है, जिसकी जांच की जा रही है। ‘एयरप्रॉक्स’ से आशय ऐसी स्थिति से होता है जब दो विमान एक मानक दूरी का उल्लंघन करते हुए एक-दूसरे के नजदीक आ जाते हैं।