पश्चिम गारो हिल्स में तूफान से तबाही, लाखों के नुकसान का अंदेशा

Daily news network Posted: 2018-04-22 14:17:33 IST Updated: 2018-04-22 14:17:33 IST
पश्चिम गारो हिल्स में तूफान से तबाही, लाखों के नुकसान का अंदेशा
  • पश्चिमी गारो हिल्स जिले के कई हिस्सों में आए तेज तूफान से काफी नुकसान हुआ है। तूफान के चलते बड़ी तादात में कच्चे घर और पुराने पेड़ गिर गए हैं

शिलॉन्ग।

पश्चिमी गारो हिल्स जिले के कई हिस्सों में आए तेज तूफान से काफी नुकसान हुआ है। तूफान के चलते बड़ी तादात में कच्चे घर और पुराने पेड़ गिर गए हैं। जानकारी के अनुसार पश्चिम गारो हिल्स में सैंकड़ों कच्चे घर गिर गए और पेड़ उखड़ गए। इससे लाखों रुपए के नुकसान का अंदेशा है। रोनग्राम व दादेनग्रे कम्युनिटी डवलपमेंट ब्लॉक क्षेत्र की इडेनबारी, दुरा, सोंगमा व रोगांदी ग्रामसेवक मंडल में तूफान से जनजीवन को काफी प्रभावित किया। सेलसेला और टिकरिकिला में भी तूफान का असर दिखा। 




पश्चिम गारो हिल्स के उपायुक्त रामसिंह के मुताबिक रोनग्राम, टिकरिकिला, दादेंग्रे व सेलसेला में करीब 40 गांवों के लगभग 1500 घरों को नुकसान पहुंचा है। तूफान से न केवल मकान गिरे बल्कि पशु, बागान और फसलों को भी हानी हुई है। वहीं सड़क पर पेड़ों के गिरने से कई जगह बिजली के तार टूट गए हैं, जिससे काफी समय तक बिजली की आपूर्ति बाधित हुई। दादेंग्रे ब्लॉक के अंतर्गत एक मोबाइल टॉवर भी गिर गया। तुरा के नजदीक इडेनबारी गांव में 24 घर पूरी तरह से तबाह हो गए हैं। 




तूफान इतना तेज था कि लोगों के घरों की छत के टिन उड़ गए। इससे कई परिवार बेघर हो गए हैं। प्रभावित लोगों ने जिला उपायुक्त से मदद की गुहार लगाई है। तूफान के बाद तेज बारिश भी हुई। बताया गया कि घर के अंदर रखे इलेक्ट्रॉनिक्स के सामान भी नष्ट हो गए हैं। दादेंग्रे सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले मेघालय के गृहमंत्री जेम्स पेंगसांग के संगमा पीडि़तों से मिलने और नुकसान का आंकलन करने के लिए शिलोंग के गारो हिल्स निकल गए हैं। दूसरी ओर उत्तर तुरा के विधायक थामन ए संगमा ने शनिवार सुबह प्रभावित गांवों का दौरा किया और पीडि़त परिवारों से मुलाकात की। उन्होंने जिला उपायुक्त से तत्काल कदम उठाने को कहा है।