कांग्रेस नेता ने कहा, महिला सुरक्षा के लिए मुख्यमंत्री लाए सख्त अध्यादेश

Daily news network Posted: 2018-04-19 12:42:08 IST Updated: 2018-04-19 15:16:35 IST
कांग्रेस नेता ने कहा, महिला सुरक्षा के लिए मुख्यमंत्री लाए सख्त अध्यादेश
  • असम में महिलाआें पर बढ़ते अपराध की घटनाआें से चिंतित विपक्ष केे नेता देबब्रत सैकिया ने इस बारे में बिना देर किए हुए कठोर कानूनी प्रावधानों से युक्त आध्यादेश लाने पर बल दिया है।

गुवाहाटी।

असम में महिलाआें पर बढ़ते अपराध की घटनाआें से चिंतित विपक्ष केे नेता देबब्रत सैकिया ने इस बारे में बिना देर किए हुए कठोर कानूनी प्रावधानों से युक्त आध्यादेश लाने पर बल दिया है। कांग्रेस विधायक दल ने हाल ही में बजट अधिवेशन के दौरान राज्य विधानसभा में महिलाआें के खिलाफ अपराधों पर चर्चा के लिए एक स्थगन प्रस्ताव रखा था।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने अगले सत्र के दौरान इस पर कठोर कानून बनाने का भरोसा दिया था, लेकिन अभी तक इस आेर कोर्इ सार्थक कदम नहीं उठाया गया है। कांग्रेस विधायक दल के नेता सैकिया ने कहा कि सरकार की लेटलतीफी के कारण राज्य में दिनों-दिन महिलाआें के खिलाफ अत्याचार आैर दुराचार जैसी घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं। इन्हें रोकने के लिए बिना देर किए हुए मजबूत कदम उठाए जाने की जरूरत है।




उन्होंने आगे कहा कि क्योंकि न्यायपालिका पहले से ही विभिन्न मामलों के बोझ से घिरी हुर्इ है। मुख्यमंत्री सोनोवाल को तत्काल राज्य में छह से सात फास्ट ट्रैक अदालतें गठित करवानी चाहिए, जिन्हें केवल महिलाआें के खिलाफ अत्याचार आैर बलात्कार जैसे मामलों के त्वरित निपटारे का कार्य दिया जाए। कांग्रेस नेता के मुताबिक हर जिले में एेसी अदालतों को गठन किया जाना चाहिए।