हिंसा के जरिए विपक्षी दलों को दबाने की कोशिश कर रही त्रिपुरा सरकार

Daily news network Posted: 2018-04-15 21:39:41 IST Updated: 2018-04-15 21:39:41 IST
हिंसा के जरिए विपक्षी दलों को दबाने की कोशिश कर रही त्रिपुरा सरकार
  • नवनिर्वाचित त्रिपुरा सरकार माकपा पोलित ब्यूरो के सदस्य प्रकाश करात ने गंभीर आरोप लगाया है।

अगरतला।

नवनिर्वाचित त्रिपुरा सरकार माकपा पोलित ब्यूरो के सदस्य प्रकाश करात ने गंभीर आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि त्रिपुरा में भाजपा-आईपीएफटी सरकार हिंसा के जरिए विपक्षी दलों को दबाने की कोशिश कर रही है।


करात ने पश्चिम त्रिपुरा जिले के जिरानिया, खायरपुर, रानीबाजार और मांडवई का दौरा किया, जहां सत्ताधारी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विपक्षी वाम दलों के कार्यकर्ताओं और दफ्तरों पर कथित तौर पर हमला किया था।


उन्होंने आरोप लगाया, 'नई सरकार हिंसा के जरिये विपक्षी दलों को दबाने की कोशिश कर रही है। आज मैं जिन क्षेत्रों में गया, उन क्षेत्रों में एक भी पार्टी दफ्तर ऐसा नहीं है जो खुला हो और वहां कामकाज चल रहा हो।'


माकपा महासचिव ने कहा कि कुछ पार्टी दफ्तरों को जला दिया गया, कुछ को लूट लिया गया और कुछ जगह तो उन पर कब्जा करने की भी कोशिश की गई।


करात ने हिंसा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद माकपा के प्रदेश मुख्यालय में संवाददाताओं को बताया। 'यही हाल राज्य के अन्य हिस्सों में भी है।'


माकपा के 25 साल के लंबे शासन के बाद पिछले महीने भाजपा राज्य विधानसभा चुनाव में भारी जीत के बाद सत्ता में आयी है।