'तानाशाह के डर से मौन हैं बीजेपी की महिला नेता'

Daily news network Posted: 2018-04-14 11:10:25 IST Updated: 2018-04-14 12:35:47 IST
'तानाशाह के डर से मौन हैं बीजेपी की महिला नेता'
  • अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष और पार्टी प्रवक्ता सु्मिता देव ने भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेताओं को तानाशाह बताया है

गुवाहाटी।

अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष और पार्टी प्रवक्ता सु्मिता देव ने भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेताओं को तानाशाह बताया । देव ने शुक्रवार को आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी की महिला नेता कठुआ और उन्नाव बलात्कार मामलों पर “तानाशाह के डर के कारण” मौन हैं।




बता दें कि कठुआ और उन्नाव दुष्कर्म मामले में गुरूवार की रात इंडिया गेट तक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में हुए कैंडल मार्च के बाद शुक्रवार को भाजपा नेता मीनाक्षी लेखी ने कांग्रेस को घेरे में लिए है। उन्हाेंने कहा कि आप उनका (कांग्रेस) प्लान देख सकते हैं, पहले वे अल्पसंख्यक-अल्पसंख्यक चिल्ला रहे थे, उसके बाद दलित-दलित और अब 'महिला-महिला' चिल्ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस की साजिश है कि राज्य सरकार के मुद्दों पर केंद्र को घेरा जा रहा है और राज्य सरकारों द्वारा की जा रही कड़ी कार्रवाइयों को नजरंदाज किया जा रहा है।


इस पर सुष्मिता देव ने कहा कि भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी की टिप्पणी से दोनों घटनाओं को चुनिंदा तरीके से उठाया जा रहा है, जिसने राष्ट्र को अपमानित

किया।


सुष्मिता ने कहा कि अपराध करने वाला व्यक्ति इस तरह का जुर्म करने से पहले महिला से उसका धर्म नहीं पूछता है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में गुरुवार आधी रात को निकाले गए कैंडल मार्च का मकसद भारत में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध के मुद्दे को उठाना था और यह सिर्फ कठुआ और उन्नाव मामले तक सीमित नहीं था।



उन्होंने कहा, “यह शर्म की बात है कि भाजपा की महिला सांसद तानाशाह के डर के कारण चुप हैं।” लेखी के बयान पर सुष्मिता ने कहा, “मैं उनके बयान की निंदा करती हूं, उनका यह बयान इस राष्ट्र और इसकी महिलाओं के लिए शर्म की बात है।”